in

Ranji Trophy Semi-Final: Mumbai Have Slight Upper Hand Against Uttar Pradesh


रिकॉर्ड चैंपियन मुंबई, जो अपने बेरहम प्रदर्शन में वापस आ गई है, का सामना उत्तर प्रदेश में मंगलवार से शुरू हो रहे रणजी ट्रॉफी के एक दिलचस्प सेमीफाइनल में होने वाले आत्मविश्वास से है। फॉर्म में चल रहे मुंबई के बल्लेबाजों को यूपी के विभिन्न आक्रमणों का सामना करना होगा, जिसे तेज गेंदबाज मोहसिन खान के शामिल होने से बल मिलेगा। 41 बार के रणजी चैंपियन ने उत्तराखंड के 725 रन के विश्व रिकॉर्ड के साथ अंतिम चार में जगह बनाई और खेल में गति को आगे बढ़ाने का लक्ष्य रखेंगे। यूपी ने कर्नाटक को पांच विकेट से हराया मुंबई एक बार फिर से लय सेट करने के लिए अपने बल्लेबाजों पर निर्भर करेगी। सभी की निगाहें पृथ्वी शॉ पर होंगी, जिन्हें मोहसिन एंड कंपनी के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।

दो अन्य बड़े प्रभाव वाले खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल और इन-फॉर्म सरफराज खान हैं, जो आखिरी गेम में अपने शतक के बाद आत्मविश्वास से लबरेज होंगे।

सरफराज ने विपक्षी हमलों को अपनी मर्जी से जमा करने के लिए उकसाया है। और इस तरह यूपी की गेंदबाजी इकाई के लिए उसे रोकना वाकई एक चुनौती होगी।

दोहरा शतक लगाने वाले नवोदित खिलाड़ी सुवेद पारकर अपनी किटी में रन जोड़ने की कोशिश करेंगे जबकि अरमान जाफर की भी बड़ी पारी पर नजर होगी।

मुंबई को हालांकि बदलाव करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा क्योंकि विकेटकीपर आदित्य तारे चोट के कारण बाहर हो गए हैं और हार्दिक तमोर प्लेइंग इलेवन में जगह बना सकते हैं।

लेकिन इस बार उनका सामना बाएं हाथ के तेज गेंदबाज यश दयाल, अंकित राजपूत और ट्वीकर सौरभ कुमार से होगा, जो विपक्ष के इर्द-गिर्द जाल बिछा सकते हैं।

क्वार्टर फाइनल में सात विकेट लेने वाले कुमार कप्तान करण शर्मा के पसंदीदा खिलाड़ी हो सकते हैं।

मुंबई के गेंदबाजी संयोजन के साथ छेड़छाड़ की संभावना नहीं है। और बाएं हाथ के स्पिनर शम्स मुलानी, जो अपनी मर्जी से फिफ़र ले रहे हैं, अपने जादू को फिर से बनाने की कोशिश करेंगे।

इसके साथ ही धवल कुलकर्णी, मोहित अवस्थी, तुषार देशपांडे और युवा ऑफ स्पिनर तनुश कोटियन, मुंबई के अनुभव में यूपी के बल्लेबाजों को बेहतर बनाने के लिए आवश्यक अग्नि शक्ति है।

यूपी में अपेक्षाकृत अनुभवहीन बल्लेबाजी लाइन-अप भी है और एक या दो बल्लेबाजों पर निर्भर हैं। उनके शीर्ष क्रम को एकजुट होकर आग लगाने की जरूरत होगी और कप्तान शर्मा को सामने से नेतृत्व करना होगा।

प्रचारित

दो अन्य बल्लेबाज जो प्रभाव डाल सकते हैं वे हैं प्रियम गर्ग और रिंकू सिंह।

लेकिन आर्यन जुवल, समर्थ सिंह, ध्रुव जोरेल जैसे अन्य लोगों को खड़े होने और अधिक जिम्मेदारी लेने की आवश्यकता होगी। जहां मुंबई अपने 42वें खिताब के करीब एक कदम और आगे बढ़ना चाहेगी, वहीं यूपी के पास बड़ी उलटफेर करने की पूरी ताकत है।

इस लेख में उल्लिखित विषय



Source link

What do you think?

Written by afilmywaps

Leave a Reply

Your email address will not be published.

What Is The Prevention Of Depression In Old Age Cause Of Depression In Older How To Treat Depression

Ireland vs India – Sitanshu Kotak, Sairaj Bahutule, Munish Bali Part Of India Support Staff For Ireland Series Under VVS Laxman: Report